अल्बर्ट आइंस्टीन की कहानी एवं उसके विचार | Albert Einstein’s story and his quotes in Hindi

0
95

अल्बर्ट आइंस्टीन की कहानी एवं उसके विचार | Albert Einstein’s story and his quotes in Hindi- 

अल्बर्ट आइंस्टीन की कहानी

अल्बर्ट आइंस्टीन का एक जर्मन Theoretical Physicist थे, उनका जन्म सन् 1879 में 14 मार्च को जर्मनी के उल्म (Ulm) में हुआ था। उनके पिता हेलमन्न आइंस्टीन पेसे से एक इंजीनियर थे और कभी कभार Salesman का काम भी किया करते थे और अल्बर्ट आइंस्टीन के माता का नाम पौलिन (Pauline) आइंस्टीन था।

Albert Einstein ने शुरूआती पढाई Munich नाम के एक जगह से किया, बाद में उनका परिवार इटली चला गया। आगे की पढाई अल्बर्ट आइंस्टीन ने स्विट्ज़रलैंड से की।

Albert Einstein Story and Quotes

सन् 1896 में अल्बर्ट आइंस्टीन ने एक Polytechnic School में दाखिला लिया जहाँ वो Physics और Math के Teacher बनने के लिए Training लिए।

सन् 1901 ईस्वी में उन्होंने ने Diploma पूरा किया फिर वो Swiss Patent Office में Technical Assistance का काम करने लगे, उन्हें ऐसा इसलिए करना पड़ा क्यूंकि उन्हें Teaching Job नहीं मिला।

1903 में अल्बर्ट आइंस्टीन ने Mileva Maric नाम के स्त्री से शादी कर ली और उन्हें 1 पुत्री और 2 पुत्र हुए, लेकिन उनकी शादी नहीं चली और फिर अल्बर्ट ने अपने Cousin से शादी रचाई जिसका नाम Elsa था।

और फिर Finally उनको 1905 में डॉक्टर की डिग्री मिल गई।

आगे चल कर अपने मेहनत के दम पर अल्बर्ट आइंस्टीन 20 वीं सदी के सबसे Influential Physicist बने, और ये कहना भी गलत नहीं होगा कि अल्बर्ट अब तक के सबसे प्रशिद्ध वैज्ञानिक रहें हैं, इनके बारे में किताबों में पढ़ाया जाता है और इन्हे बच्चा-बच्चा जनता है।

आप सोच रहे होंगे वो इतने बड़े और महान वैज्ञानिक थे तो वो बचपन से ही पढ़ने लिखने में काफी अच्छे रहें होंगे लेकिन हम बात दे आपका ये अंदाजा बिलकुल गलत है वो बचपन में पढ़ने लिखने में बहुत की एवरेज रहे हैं और इतना ही नहीं बचपन में उन्हें बोलने में भी बहुत दिक्कत होती थी।

अल्बर्ट आइंस्टीन को महान वैज्ञानिक उन्हें उनके Passion ने बनाया, वो मैथ और भैतिक विज्ञान को पढ़ना बहुत ही ज्यादा पसंद करते थे।

जब अल्बर्ट आंइस्टीन Swiss Patent Office में काम कर रहे थे तो उन्हें काफी फ्री टाइम मिलता था, और उसी समय उन्होंने बहुत सारी Influential Theories लिखीं।

Albert Einstein को 1921 में, Physics में उनके योगदान के लिए नोबल प्राइज से सम्मानित किया गया।

साल 1933 में Albert Einstein USA चले गए और अपने जिंदगी के बाकी दिन वे वही बिताये।

अगर बात इस नाम की किया जाए “अल्बर्ट आइंस्टीन” की तो यह नाम आज के समय में तो Genius और Creativity का दूसरा नाम बन गया है।

अल्बर्ट आइंस्टीन के प्रेरक विचार हिंदी में | Albert Einstein Quotes in Hindi

1st Quote

कल्पना ज्ञान से कहीं ज्यादा महत्वपूर्ण हैं, क्यूंकि ज्ञान की कोई सिमा हो सकती है लेकिन कल्पना की कोई सिमा नहीं होती।

2nd Quote

कुछ ही लोग ऐसे हैं जो अपने आँखों से देखते हैं और अपने दिल से महसूस करते हैं।

3rd Quote

सफल नहीं  मूल्यवान व्यक्ति बनने का कोसिस करें।

4th Quote

दुनिया का हर व्यक्ति प्रतिभाशाली है लेकिन अगर आप एक मछली को पेड़ पर चढाने के क्षमता के आधार पर उसके प्रतिभा को मापते हैं तो वो यही समझते हुए अपनी अपनी जिंदगी गुजर देगी की वो मुर्ख है।

Clarification: 4th Quote को हर व्यक्ति को याद रखना चाहिए, क्यूंकि हमारे समाज में लोग बच्चों की प्रतिभा को सिर्फ उसके परीक्षा में हासिल किये हुए Numbers के आधार पर मापते हैं। लेकिन कभी कभार कुछ बच्चे पढाई में सही नंबर नहीं ला पाते लेकिन इसके पीछे कोई कारण रहता है।

और वो कारण उनका संगीत, खेल या किसी और Creative काम पर उनके ध्यान का लगाना हो सकता है।

यह जरूरी तो नहीं की सबकी प्रतिभा सिर्फ और सिर्फ पढाई में हो। इसलिए हमे किसी की प्रतिभा का आकलन सिर्फ किसी एक Particular काम के आधार पर नहीं करना चाहिए हो सकता है उसकी प्रतिभा किसी और काम में हो।

जब आपके घर का कोई बच्चा अच्छे से पढाई न कर पता हो तो आप पहले उसके प्रतिभा को पहचानने की कोसिस करें और अगर उसका प्रतिभा किसी और एक्टिविटी या काम में हो तो तो कृपया उसे उसके पसंद का काम करने की आजादी दें, हो सकता है वो उसी काम के लिए बना हो।

5th Quote

आप प्रकृति पर धयान दें और आपको सब कुछ अच्छे से समझ आने लगेगी।

Clarification: हो सकता है Quote  5th सबको समझ में ना आये क्यूंकि हम एक भाग दौड़ भरी जिंदगी जी रहें है, हमे ज्यादा से ज्यादा कामयाबी हासिल करनी है और बहुत सारे पैसे कमाना है।

ज्यादा कामयाबी हासिल करने और ज्यादा पैसे कमाने की कोसिस में हम बहुत सारी चीजों को नजर अंदाज कर देते हैं जिसके कारन आगे चल कर हमे बहुत नुकशान भुगतना पड़ता है।

अगर आप प्रकृति के नियम को समझ लेते हैं तो आप आगे होने वाले बहुत से नुकशान से बच सकते हैं। प्रकृति के नियम को समझने के लिए आप इस विषय पर लिखी गई किताबों को पढ़ सकते हैं और उसमे बताई गई बातों को अपने जीवन में उतार कर एक बेहतर जिंदगी जी सकते हैं।

6th Quote

सभी धर्म, कला एवं विज्ञान एक ही बृक्ष की शाखाएं हैं।

7th Quote

कठिनाइयों के बिच ही अवसर छुपे होते हैं।

8th Quote

वो आदमी जिसने आज तक कोई गलती नहीं की, उसने आज तक कुछ सीखने की कोसिस नहीं की।

9th Quote

सवाल पूछते रहना बहुत महत्वपूर्ण काम है, क्यूंकि जिज्ञासा के मौजूदगी का यही एकमात्र कारण है।

10th Quote

क्रोध केवल मूर्खो के ह्रदय में बसता है।

11th Quote

जिंदगी जीना सायकल की सवारी करने जैसे है, संतुलन बनाये रखें और आगे बढ़ाते रहें।

13th Quote

आप अपनी जिंदगी सिर्फ 2 ही तरीकों से जी सकते हैं, एक में देखा जाए तो सब कुछ चमत्कार है और दूसरे में चम्तकार जैसे कुछ भी नहीं।

Clarification: Albert Einstein ने ऐसा इस लिए कहा है क्यूंकि कुछ लोग कोई काम नहीं करते हैं और इस उम्मीद में जिंदगी गुजार देते हैं कि उनके साथ कोई चमत्कार होगा और वो कामयाब हो जाएंगे या उनकी जिंदगी बदल जायेगी लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं होता।

14th Quote

जब आप सीखना बंद कर देते हैं तो आपकी जन्दगी ख़त्म होनी शुरू हो जाती है।

15th Quote

ऐसा नहीं है कि मैं बहुत स्मार्ट हूँ लेकिन मैं हमेसा समस्याओं को दूर करता रहता हूँ।

Clarification: कुछ लोग दूसरों के तरफ देखते हैं और कहते हैं कि वो बहुत Smart है; वो ये कर सकता, वो वो कर सकता है। लेकिन वो Smart कैसे बना है इस बात पर ध्यान नहीं देते। कोई भी इंसान जिसे हम Smart समझते हैं वो समस्याओं को सुलझा कर ही स्मार्ट बना है।

जैसे मान लेते हैं 2 व्यक्ति हैं और दोनों को English बोलना सीखना है, दोनों ने एक साथ किसी English Spoken Institute को Join किया और शुरू के दिनों में दोनों को English समझ में न आने के कारण बहुत हताशा हुई और एक ने तो institute जाना ही बंद कर दिया लेकिन दूसरा अपने समस्याओं को पहचान कर उन्हें दूर किया। जैसेकि उसको ज्यादा English Words नहीं पता थे तो उसने Words को सीखा और याद किया। उसे लिखना नहीं आता था तो लिखने का Practice करता रहा और एक दिन वो English लिखना और बोलना भी सिख गया। उसके बाद एक दिन जब पहला व्यक्ति दूसरे व्यक्ति से मिला तो उसके दूसरे को कहा की तुम Smart हो इस लिए English बोलना सिख गए।

यदि इस उदहारण पर गौर किया जाए तो हमे यही पता चलता है कि दूसरा व्यक्ति जिसने अंग्रेजी बोलना सिख लिया वो Smart इस लिए बना क्यूंकि वो अपने समस्याओं को सुलझा कर आगे बढ़ा। अपने समस्याओं से डर कर पीछे नहीं हटा।

16th Quote

आप तब तक नहीं हार सकते जब तक आप कोसिस करना न छोड़ दें।

Clarification: आपने बचपन में वो चिट्टी वाली कहानी तो सुनी ही होगी जिसमे एक राजा किसी दूसरे राज्य पर चढ़ाई करता है लेकिन वो बार-बार असफल हो जाता है फिर वो हार मानने वाला ही होता है की वो एक चिट्टी को अनाज का टुकड़ा ले कर पेड़ पर चाहते हुए देखता है।  वो देखता है की चिट्टी अनाज का टुकड़ा लेकर के बार बार ऊपर चढाने की कोसिस तो करती है लेकिन हर बार  गिर जाती है। बार-बार गिराने के वावजूद भी वो चिट्टी हार नहीं मानती है और कई बार कोसिस करने के बाद वो उस अनाज के टुकड़े को ले कर पेड़ पर चढ़ने में सफल हो जाती है। इस घटना को देख रहा राजा भी हार ना मानने का इरादा पक्का करता है और फिर एक एक समय आता है कि राजा भी कई कोसिसों के बाद जित जाता है।

अल्बर्ट का ये Quote भी इस बात का सन्देश देता है कि अगर आप हार नहीं मानते तो जीत पक्की है लेकिन कोसिस भी जम कर होनी चाहिए।

Albert Einstein Story in Hindi | Albert Einstein Quotes in Hindi | Albert Einstein Success Quotes in Hindi | Albert Einstein Success Formula in Hindi | Albert Einstein ke Anmol Vichar | अल्बर्ट आइंस्टीन की कहानी। अल्बर्ट आइंस्टीन के विचार।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here